णमोकार महामन्त्र namokar mantra

Namokar Mantra Hindi Meaning

णमो अरहंताणं, णमो सिद्धाणं णमो आइरियाणं।
णमो उवज्झायाणं, णमो लोए सव्वसाहूणं॥

‘चत्तारि मंगलं अरहंत मंगलं सिद्ध मंगलं साहु मंगलं
केवलिपण्णत्तो धम्मो मंगलं।
चत्तारि लोगुत्तमा अरहंत लोगुत्तमा सिद्ध लोगुत्तमा
साहु लोगुत्तमा केवलिपण्णत्तो धम्मो लोगुत्तमो।
चत्तारि सरणं पव्वज्जामि अरहंत सरणं पव्वज्जामि
सिद्ध सरणं पव्वज्जामि साहु सरणं पव्वज्जामि
केवलिपण्णत्तो धम्मो सरणं पव्वज्जामि।

एसो पंच णमोयारो, सव्वपावप्पणासणो।
मंगलाणं च सव्वेसिं, पढमं होइ मंगलं॥

णमोकार महामन्त्र हिन्दी, Namokar Mantra in Hindi

नमो अरिहंताणम
मैं उस प्रभु को नमन करता हूं, जिसने सभी दुश्मनों का नाश कर दिया है, क्रोध-मान-माया-लोभ, राग-द्वेष, रूपी दुश्मनों का नाश कर दिया है ।
नमो सिद्धाणं
मैं उन सभी भगवान को नमन करता हूं जिन्होंने अंतिम मुक्ति प्राप्त की है।
नमो आयरियाणं
मैं उन आचार्य भगवान को नमस्कार करता हूँ जिन्होंने ख़ुद आत्मा प्राप्त कर लिया है और मोक्ष का मार्ग दिखाते हैं ।
नमो उवज्जायाणम
मैं मोक्ष के मार्ग के आत्माज्ञानी शिक्षकों को नमन करता हूं ।
नमो लोए सव्व साहूणम
मैं उन सभी को नमन करता हूं जिन्होंने आत्मा को प्राप्त किया है और ब्रह्मांड में इस मार्ग पर आगे बढ़ रहे हैं।
एसो पंच नमुक्कारो
ऊपर जो पाँच नमस्कार किए वे
सव्व पावप्पणासणों
सब पापों का नाश करो।
मंगलाणम च सव्वेसिं
सभी  शुभ  मंत्रों में से
पढमं हवई मंगलं
यह उच्चतम है।

*****

Note

Jinvani.in मे दिए गए सभी स्तोत्र, पुजाये और आरती जिनवाणी संग्रह के द्वारा लिखी गई है, यदि आप किसी प्रकार की त्रुटि या सुझाव देना चाहते है तो हमे Comment कर बता सकते है या फिर Swarn1508@gmail.com पर eMail के जरिए भी बता सकते है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here